Back to the top

Hartalika Teej Vrat

हरतालिका तीज व्रत, कथा और पूजा विधि

नारी के सौभाग्य की रक्षा करनेवाले इस व्रत को सौभाग्यवती स्त्रियां अपने अक्षय सौभाग्य और सुख की लालसा हेतु श्रद्धा, लगन और विश्वास के साथ मानती हैं। कुवांरी लड़कियां भी अपने मन के अनुरूप पति प्राप्त करने के लिए इस पवित्र पावन व्रत को श्रद्धा और निष्ठा पूर्वक करती है। “हर” भगवान भोलेनाथ का ही एक नाम है और चूँकि शिव को पति रूप में प्राप्त करने के लिए माँ पार्वती ने इस व्रत को रखा था, इसलिए इस पावन व्रत का नाम हरतालिका तीज रखा गया। (पार्वती जी के बारें में अधिक जानें: महाशक्ति माता पार्वती ) –
कैसे करें हरतालिका तीज व्रत (Hartalika Teej Vrat Vidhi in Hindi)

इस व्रत के सुअवसर पर सौभाग्यवती स्त्रियां नए लाल वस्त्र पहनकर, मेंहदी लगाकर, सोलह शृंगार करती है और शुभ मुहूर्त में भगवान शिव और मां पार्वती जी की पूजा आरम्भ करती है। इस पूजा में शिव-पार्वती की मूर्तियों का विधिवत पूजन किया जाता है और फिर हरितालिका तीज की कथा को सुना जाता है। माता पार्वती पर सुहाग का सारा सामान चढ़ाया जाता है। भक्तों में मान्यता है कि जो सभी पापों और सांसारिक तापों को हरने वाले हरितालिका व्रत को विधि पूर्वक करता है, उसके सौभाग्य की रक्षा स्वयं भगवान शिव करते हैं।

शिव पुराण की एक कथानुसार इस पावन व्रत को सबसे पहले राजा हिमवान की पुत्री माता पार्वती ने भगवान शिव को पति रूप में प्राप्त करने के लिए किया था और उनके तप और आराधना से खुश होकर भगवान शिव ने माता को पत्नी के रूप में स्वीकार किया था।

हरतालिका तीज: मालपुआ बनाने की विधि Malpua Recipe in Hindi

मालपुआ बनाने की रेसिपी (Malpua Recipe in Hindi)

समय : 20 से 30 मिनट

·         दूध- 4 कप

·         मावा या खोया – 200 ग्राम ( 1 कप )

·         मैदा – 100 ग्राम (1 कप)

·         चीनी – 300 ग्राम

·         घी – तलने के लिये

·         छोटी इलाइची या इलायची पावडर

·         बादाम (बारीक कटे हुए)

·         पिस्ते –  10-12

 

बनाने की विधि

सबसे पहले मावा को एक पैन में घी और दूध डालकर भूनें। जब यह भून तो इसे अलग निकाल लें।

इसके साथ ही एक बर्तन में दूध और चीनी डालकर गर्म करें। ऐसे करने से इसे मैदे में मिलाते समय छोटे-छोटे दाने (गुठलियां ) नहीं बनेंगे।

अब मैदे का पेस्ट बनाएं। मैदे में दूध और पानी मिलाकर अच्छा गाढ़ा पेस्ट (बैटर) बना लें। इसमें मावा, इलायची पावडर और बादाम भी मिला लीजिएं। जब मैदे का पेस्ट बन जाए तो इसे 10-15 मिनट के लिए छोड़ दीजिएं।

मालपुए तलने के लिए एक कड़ाही में रिफाइंड तेल या घी गर्म करें। ध्यान दें कि तेल अच्छी तरह से गर्म होना चाहिए। अब एक चम्मच की सहायता से बैटर को तेल में डालिएं। मालपुओं को दोनों तरफ से हल्का ब्राउन होने तक तलिए।

एक प्लेट में टिश्यू पेपर रखिएं और फिर मालपुओं को उसमें निकालकर रख लीजिएं। ऐसे करने से टिश्यू पेपर मालपुओं का अतिरिक्त तेल सोख लेता है। लीजिएं आपके मालपुए तैयार हैं। आप इसे कटे हुए ड्राई फ्रूट के साथ सजाकर सर्व कर सकते हैं।

आप चाहें तो मैदे के बैटर में केले या पनीर को मैश करके डाल सकते हैं। आप मालपुओं को खीर या चाश्नी में डुबोकर खा सकते हैं।

© All Rights Reserved www.poojapaath.co.in